Hindi Shayari 

Download fully designed New Year Shayari 2020 in Hindi and instant share with your close one. Fully designed according to the new 2020 trends.

Anonymous-

कुछ मै भी थक गया उसे धुढ़ते हुए,कुछ जिन्दगी के पास भी मोहलत नहीं रही,उसकी हर एक अदा से झलकने लगा खलूस,जब मुझको एतबार की आदत नहीं रही. 

निदा फाजली-

बेनाम सा ये दर्द ठहर क्यों नहीं जाता
जो बीत गया है वो गुजर क्यों नहीं जाता .

फ़राज़-

अब के हम बिछड़े तो शायद कभी ख़्वाबों में मिलेंजिस तरह सूखे हुए फूल किताबों में मिलें

आरिफ़ जलाली-

ख़ुद अपनी मस्ती है जिस ने मचाई है हलचल
नशा शराब में होता तो नाचती बोतल .

दीपक कुमार-

पीता था शराब उसे सोचकर जिसने पीना छुड़ा दियाआज उसी के गम ने देवदास बना दिया!!!!

ग़ालिब-

आह को चाहिए इक उम्र असर होने तक, कौन जीता है तेरी जुल्फ के सर होने तक

दीपक कुमार-

मेरी फितरत में नहीं उन परिंदों से दोस्ती रखना, जिन्हें हर किसी के साथ उड़ने का शोक हो.