शायरी

(new year Shayari 2020 in Hindi)

Download fully designed New Year Shayari 2020 in Hindi and instant share with your close one. Fully designed according to the new 2020 trends.

Anonymous-

कुछ मै भी थक गया उसे धुढ़ते हुए,कुछ जिन्दगी के पास भी मोहलत नहीं रही,उसकी हर एक अदा से झलकने लगा खलूस,जब मुझको एतबार की आदत नहीं रही. 

निदा फाजली-

बेनाम सा ये दर्द ठहर क्यों नहीं जाता
जो बीत गया है वो गुजर क्यों नहीं जाता .

फ़राज़-

अब के हम बिछड़े तो शायद कभी ख़्वाबों में मिलेंजिस तरह सूखे हुए फूल किताबों में मिलें

आरिफ़ जलाली-

ख़ुद अपनी मस्ती है जिस ने मचाई है हलचल
नशा शराब में होता तो नाचती बोतल .

दीपक कुमार-

पीता था शराब उसे सोचकर जिसने पीना छुड़ा दियाआज उसी के गम ने देवदास बना दिया!!!!

ग़ालिब-

आह को चाहिए इक उम्र असर होने तक, कौन जीता है तेरी जुल्फ के सर होने तक

दीपक कुमार-

मेरी फितरत में नहीं उन परिंदों से दोस्ती रखना, जिन्हें हर किसी के साथ उड़ने का शोक हो.